Google+ Followers

Google+ Followers

Friday, May 27, 2011

तुम्हारे आने से.....



तुम्हारे आने से पहले तुम्हारी खुशबू  हमे आ जाती है!
तुम्हारे कदमो की आहट से हमारी आँखे मुस्करा जाती है!!

तुम्हारे छू लेने से, जिस्म में होती है इक सरसराहट ,

तुम्हारी इक नज़र से रूह जैसे , जन्नत को पा जाती है !!

बिन कहे बिन बोले, दूर हो जायेंगे शिकवे और गिले,

तेरे मिलने की चाहत से हमारी दुनिया पगला जाती है!!

तुम बांहों में लेते हो, लगता है खुदाई ही पा ली हो,
 
तेरे आगोश में आने से हमे सब खुशियाँ भा जाती है!!

हमारी दुनिया में तेरा आना,  खुदा को पाने सा ही होगा 
जैसे हर मांगी दुआ अपना इक असर दिखला जाती है!!

हम किस हालात में होंगे ज़िक्र करना है यह बहुत मुश्किल,

शायद लगे जैसे नैया भंवर से फिर किनारा पा जाती है !!

10 comments:

Udan Tashtari said...

बढ़िया....

आशु;

अपना ईमेल भेजो Sameer.lal@gmail.com पर...तो आपके संशय का निवारण कर सकूँ. प्रति टिप्पणी के माध्यम से वहाँ करना उचित नहीं...

तुम्हारे कमेंट के लिए बहुत आभार मगर उस पर कुछ बताना जरुरी है. :)

स्नेह बनाये रखो, हम सब सीख रहे हैं.

समीर

Rajesh Kumari said...

Aashu aap mere blog par aaye aur apni anmol tippani di bahut bahut aabhar.usi ke madhyam se aapke blog tak pahunchi.aapki rachna padhi bahut achchi lagi achcha likhte hain aap.pls keep in touch.

आशु said...

राजेश कुमारी जी व् समीर जी,

मेरे ब्लॉग पर आने के लिए और मेरा उत्साह बढ़ाने के लिए बहुत बहुत शुक्रिया,

आशु

Dr Varsha Singh said...

बेहद उत्कृष्ट रचना है यह.
आपको मेरी हार्दिक शुभकामनायें.

Babli said...

बिन कहे बिन बोले, दूर हो जायेंगे सभी शिकवे और गिले,
तेरे मिलने की चाहत से दुनिया हमारी पगला जाती है!!
तुम बांहों में लेते हो, लगता है सारी खुदाई ही पा ली हो,
तुम्हारे आगोश में आने से ज़िदगी सब खुशियाँ पा जाती है!!
बहुत सुन्दर पंक्तियाँ! बेहद ख़ूबसूरत और भावपूर्ण रचना लिखा है आपने जो काबिले तारीफ़ है! दिल को छू गयी हर एक पंक्तियाँ!

vikas garg said...

तुम्हारे आने से पहले तुम्हारी खुशबू सी आ जाती है!
तुम्हारे कदमो की आहट से हमारी आँखे मुस्करा जाती है!!
bhut sundar rachana

आशु said...

वर्षा जी, बबली जी व् विकास जी,

मेरा होंसला बढ़ाने के लिए ..बहुत बहुत शुक्रिया,

आशु

Dr (Miss) Sharad Singh said...

हमारी दुनिया में तेरा आना,
खुदा को पाने सा है होगा
जैसे हर मांगी हुआ दुआ
अपना असर दिखला जाती है!!

उम्दा शेर कहे हैं आपने, बहुत ख़ूबसूरत ग़ज़ल है !

vidhya said...

आप का बलाँग मूझे पढ कर आच्चछा लगा , मैं बी एक बलाँग खोली हू
लिकं हैhttp://sarapyar.blogspot.com/

मै नइ हु आप सब का सपोट chheya

Reena Maurya said...

बहुत ही सुन्दर रचना है

Copyright !

Enjoy these poems.......... COPYRIGHT © 2008. The blog author holds the copyright over all the blog posts, in this blog. Republishing in ROMAN or translating my works without permission is not permitted.